hindi

1200 साल पुराना है ये जिंजी किला जानिए इसके बारें में रोचक तथ्य, जो कर देंगे आपको आश्चर्यचकित

0 14

भारत में कई सारे ऐसे किले हैं। जो सदियों से ही इतिहास और कहानियों को बयां कर रहे हैं उन्हीं में से एक है जिंजी का किला। जिसे जिंजी दुर्ग या सेंजी दुर्ग के नाम से भी जाना जाता है। पुडुचेरी में स्थित यह किला दक्षिण भारत के सबसे बेहतरीन किलो में से एक माना जाता है। इसका निर्माण 9 वीं शताब्दी में संभवत चोल राजवंश द्वारा किया गया था। इस किले की खूबसूरती ये है कि यह सात पहाड़ियों पर निर्मित कराया गया है, जिसमें कृष्ण गिरीश चंद्र गिरी और राज गिरी की पहाड़ियां भी प्रमुख है यह किस प्रकार से निर्मित है कि छत्रपति शिवाजी ने इसे भारत का सबसे अद्भुत किला बताया था वही अंग्रेजों ने इसे पूर्व का टॉय कहा था।

जानकारी कि आपको बता दें कि यह किला दीवारों से घिरा हुआ यह किला राजनीतिक रूप से बनाया गया था कि दुश्मन इस पर आक्रमण करने से पहले कई बार सोचेगा क्योंकि यह किला पहाड़ियों पर बना हुआ है। इसलिए आज भी यहां राज दरबार तक 2 घंटे की चढ़ाई के बाद ही पहुंचा जा सकता है।

यह किला लगभग 11 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में फैला है जिसकी दीवारों की लंबाई लगभग 13 किलोमीटर है। इसके लिए का मुख्य आकर्षण राजगिरी है जहां पर।।

इसके लिए पर कई शासकों ने राज किया यह किला छत्रपति शिवाजी महाराज से लेकर मुगलों और नवाबों और अंग्रेजों के भी आधीन रहा है 70 वीं शताब्दी में शिवाजी महाराज के नेतृत्व में मराठों द्वारा इसके लिए को किसी भी हमलावर देना से बचाने के लिए पुनः निर्मित किया गया था। फिलहाल या तमिलनाडु पर्यटन क्षेत्र का एक सर्वाधिक रोचक स्थल है। जहां हर साल हजारों की संख्या में लोग घूमने आते हैं क्योंकि इस समय भारत समेत दुनिया भर में कोरोनावायरस फैला हुआ है। इसीलिए इस पर्यटन स्थल को फिलहाल बंद कर दिया गया है

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.