hindi

जब तक सफलता ना मिले, तब तक हार ना माने

0 24

जो लोग सफलता पाना चाहते हैं, उन्हें अंतिम पल तक हार नहीं माननी चाहिए. जब हम हार मान लेते हैं, हम असफल हो जाते हैं. प्राचीन कथा के मुताबिक, एक राजा युद्ध में हार गया. उसके सभी सैनिक मारे जा चुके थे. राजा अपनी जान बचाकर जंगल में भाग गया और गुफा में छिप गया. राजा को खोजते-खोजते दुश्मन सैनिक पहुंच गए और राजा को ढूंढने लगे.

सैनिकों ने गुफा के द्वार को बड़े-बड़े पत्थरों से बंद कर दिया. राजा अंदर छिपा हुआ था. लेकिन वह बहुत थका हुआ था और भूख से व्याकुल था. जब शत्रु के सैनिक वहां से चले गए तो राजा सोचने लगा कि अब उसका जीवन यहीं खत्म हो जाएगा. वह गुफा से कभी बाहर नहीं निकलेगा. राजा निराश हो चुका था. लेकिन तभी उसे अपनी मां की बात याद आई. उसकी मां ने कहा था कि कुछ तो कर, यूं ही मत मर.

यह बात याद आते ही राजा फिर से ऊर्जावान हो गया. उसने सोचा बिना कोशिश किए हार नहीं माननी चाहिए. उसने द्वार से पत्थर को हटाने का काम शुरू किया और आखिरकार उसे कामयाबी मिल ही गई. उसने अपने निकलने के लिए थोड़ी सी जगह बना ली. इसके बाद वह गुफा से निकलकर अपने मित्र राजा के पास पहुंच गया. अपने मित्र राजाओं की मदद से उसने शत्रु सेना को पराजित किया और अपना राज्य वापस ले लिया.

कहानी की सीख 

इस कहानी से हमें यह सीखने को मिलता है कि सफलता जब तक ना मिले, तब तक हार ना माने. जब हम हार मान लेते हैं तभी असफल हो जाते हैं. 

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.