hindi

दुनिया की वो क्रूरतम सजाएं जिनके सुनकर भी कांप जाती है लोगों की रूह, मौत भी मांगती है भीख

0 51

विश्व में कई ऐसे देश हैं, जहां अपराध के लिए दोषियों को मृत्युदंड दिया जाता है. हालांकि कई देशों ने अब मृत्युदंड पर रोक लगा दी है. लेकिन बीते समय में अपराधियों को कैसी-कैसी सजाएं दी जाती थी. इस बारे में जानकर आपकी रूह कांप जाएगी.

हाथी से कुचलवाना 

दक्षिण और दक्षिण पूर्व एशिया में पहले दोषियों को सजा देने के लिए हाथी का इस्तेमाल होता था. दोषियों को हाथी से कुचलवाया जाता था. इसके लिए हाथियों को ट्रेनिंग दी जाती थी, जिससे दोषियों को भयानक मौत मिलती थी.

लिंग ची 

ह दुनिया की सबसे क्रूरतम सजा में से एक है जिसका इस्तेमाल 10वीं सदी के चीन में होता था. पहले दोषियों को एक टेबल पर लिटाकर बांध दिया जाता था. फिर धारदार हथियार से चीरे लगाना शुरु किए जाते थे. दोषी के शरीर पर हजारों कट लगाए जाते थे. इस दौरान उसके हाथ पैर काटकर उसके शरीर से अलग कर दिए जाते थे. फिर आखिरी कट दिल पर लगाया जाता था.

पानी में उबालकर 

सैकड़ों साल पहले दोषियों को मृत्युदंड देने के लिए उबलते हुए पानी, तेल या तारकोल में जिंदा डाल दिया जाता था. हालांकि इससे पहले उसे ठंडे पानी में रखा जाता था.

आग में भूनकर 

कई देशों में प्राचीन काल में दोषी को लोहे की जंजीर से बांधकर उसे जलती आग के ऊपर रख दिया जाता था. कई बरार ग्रिड के नीचे आग लगाने के बजाय जलते हुए कोयले रखे जाते थे. 

स्कैफिज्म

यह बहुत ही भयानक तरीका थी, जिसका इस्तेमाल प्राचीन ईरान में होता था. इस सजा के तहत दोषी के हाथ पैर बाहर की ओर निकालकर दो नावों के बीच बांध दिए जाते थे. हाथ-पैरों पर दूध और शहद लगाया जाता था और उसे पानी में फेंक दिया जाता था, जिसके बाद पानी में रहने वाले छोटे-बड़े जीव उसके हाथ-पैर को नोंच-नोंच कर खा जाते थे.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.