hindi

क्या मृत व्यक्ति के फिंगरप्रिंट्स से अनलॉक हो सकता है उसका मोबाइल, जाने जवाब

0 15

किसी भी व्यक्ति की पहचान करने में उसके फिंगरप्रिंट्स काफी मददगार साबित होते हैं. आधार, पासपोर्ट जैसे दस्तावेजों के लिए हमें अपनी सभी उंगलियों के निशान देने होते हैं. लेकिन मरने के बाद इंसान के फिंगरप्रिंट्स बदल जाते हैं. दरअसल इंसानों की मौत के बाद उसके शरीर में मौजूद इलेक्ट्रिकल कंडक्टेन्स खत्म हो जाती है, जिसके बाद यह सारी कोशिकाएं काम करना बंद कर देती हैं.

इंसान की मौत के बाद उसका शरीर जकड़ जाता है. उसकी उंगलियां भी जकड़ जाती है. ऐसे में उसके फिंगरप्रिंट लेने में काफी मशक्कत करनी पड़ती है. लेकिन आधुनिक समय में इस समस्या का समाधान भी निकल आया है. जीवित और मृत व्यक्ति के फिंगरप्रिंट में हुए बदलाव का केवल फॉरेंसिक एक्सपर्ट ही पता लगा सकते हैं. फॉरेंसिक लैब्स में मृत व्यक्ति के फिंगरप्रिंट लेने के लिए सिलिकॉन पुट्टी का इस्तेमाल किया जाता है.

सिलिकॉन पुट्टी पर साफ फिंगरप्रिंट्स आते हैं, जिसकी तस्वीर लेकर इस्तेमाल में लाई जाती है. क्या किसी मृत व्यक्ति का मोबाइल फोन उसके फिंगरप्रिंट से अनलॉक हो सकता है, तो इसका जवाब है नहीं. किसी मृत व्यक्ति के फोन को उसके फिंगरप्रिंट से अनलॉक नहीं किया जा सकता, क्योंकि मोबाइल में मौजूद सेंसर इस बात का अंदाजा लगाने में सक्षम कि वह व्यक्ति जिंदा है या मृत. मोबाइल फोन के सेंसर भी किसी व्यक्ति की उंगलियों में दौड़ने वाली इलेक्ट्रिक कंडक्टेन्स के आधार पर ही काम करती है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.