hindi

जिस बल्ले से धमाल मचाते हैं विराट-डिविलियर्स, जानिए किस लकड़ी से बनते हैं ये बैट, कहां पाए जाते हैं इसके पेड़

0 24

क्रिकेट का खेल भारत में बहुत ज्यादा लोकप्रिय हैं. भले ही क्रिकेट की शुरुआत अंग्रेजों ने की हो, लेकिन भारत में क्रिकेट को लेकर अलग ही जुनून देखने को मिलता है. क्रिकेट के मैदान पर जब चौके-छक्के जड़ते हैं तो खूब मजा आता है. लेकिन जिस बल्ले से खिलाड़ी क्रिकेट खेलते हैं वह बल्ले किस लकड़ी से बनते हैं. यह लकड़ी कहां से आती है, आज हम आपको इस बारे में बताने जा रहे हैं.

विलो नामक लकड़ी से बनते हैं क्रिकेट बैट 

क्रिकेट बैट एक ही लकड़ी के बने होते हैं. इस लकड़ी को विलो कहा जाता है. यह दो प्रकार की होती है, इंग्लिश विलो और कश्मीरी विलो. हालांकि बड़े खिलाड़ी इंग्लिश विलो से बनाए गए बल्लों का इस्तेमाल करते हैं, जो कश्मीर विलो बैट की तुलना में काफी दमदार और उच्च गुणवत्ता के होते हैं और काफी महंगे भी होते हैं.

हालांकि कश्मीरी विलो और इंग्लिश विलो के बीच क्या अंतर है. यह भी जान लीजिए. इंग्लिश और कश्मीरी विलो में अंतर जानने से पहले आपको कुछ जरूरी बातों का पता होना चाहिए. क्रिकेट बैट बनाने के लिए जिस विलो का इस्तेमाल किया जाता है, उसे Salix Alba कहा जाता है. Salix Alba यूरोप में बड़े पैमाने पर पाए जाते हैं, खास तौर पर ब्रिटेन में. 

एशिया के कुछ इलाकों में विलो भी पाए जाते हैं. इनके पैड़ लगभग 10 से 30 मीटर ऊंचे होते हैं. कश्मीरी विलो की तुलना में इंग्लिश विलो का रंग थोड़ा हल्का होता है. कश्मीरी विलो के मुकाबले इंग्लिश विलो में ज्यादा ग्रेन होते हैं. दोनों के वजन में भी अंतर होता है. कश्मीरी विलो की तुलना में इंग्लिश विलो हल्के होते हैं, क्योंकि कश्मीरी विलो में ज्यादा घनत्व और नमी होती है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.