hindi

जानिए किसने बनाया था थर्मोमीटर, क्या है भारत के साथ उनका नाता

0 30

थर्मोमीटर का इस्तेमाल शरीर का तापमान मापने में किया जाता है. कोरोना महामारी के दौर में तो थर्मोमीटर की अहमियत और भी ज्यादा बढ़ गई है. थर्मोमीटर का आविष्कार डैनियर गैब्रियल फॉरेनहाइट ने किया था जिनका जन्म 24 मई 1668 को पोलैंड में हुआ था. लेकिन वह मूल रूप से जर्मन के थे और उनका जीवन डच रिप‍ब्लिक में बीता था. वे भौतिक शास्त्र भौतिक शास्‍त्री थे.

ऐसा कहा जाता है कि डेनियल ने बहुत ही सीक्रेट तरीके से अपने आविष्कार को आगे बढ़ाया था. उन्होंने 18 साल तक थर्मोमीटर पर काम किया था. उन्होंने 1714 तक अपने पहले दो थर्मोमीटर को बनाने का काम पूरा कर लिया था. डेनियल ने पारे यानी मरकरी से पहले थर्मोमीटर में एल्‍कोहल को रखा था. लेकिन उनका प्रयोग सफल नहीं हुआ. इसकी वजह से तापमान का सही पता नहीं लगाया जा सका था, जिसके बाद उन्होंने शराब का प्रयोग किया और उसमें भी उनको सफलता नहीं मिली.

उन्होंने अपने आविष्कार के लिए डेनमार्क के वैज्ञानिक ओलास रोमर के थर्मोमीटर से प्रेरणा ली थी. उन्होंने पानी के बोलिंग प्वाइंट का अध्ययन किया. प्रयोगों के बाद उन्हें पता चला कि वातावरण में अलग-अलग दबाव पर पानी का ब्‍वॉयलिंग प्‍वाइंट बदल जाता है. पहली बार 1724 में पहली बार फॉरेनहाइट स्‍केल का प्रयोग तापमान को मापने के लिए किया गया था.

क्या है भारत के साथ नाता 

ऐसा कहा जाता है कि भारत के साथ भी उनका कनेक्शन रहा था. यह बताया जाता है कि एप्रेंटिसशिप में हिस्सा लेने की वजह से उन्हें भारत निर्वासित किया जाने वाला था. 2012 में क्रिस्टीज में नीलामी के दौरान उनके बनाए गए शुरुआती थर्मामीटर को $1,07,802 में खरीदा गया.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.