hindi

भारत के इस गांव में केवल जुड़वा बच्चे ही होते हैं पैदा, अब तक नहीं खुला है रहस्य

0 25

भारत में अलग-अलग जगहों को लेकर अलग-अलग तरह की कहानियां हैं. केरल राज्य में एक ऐसा रहस्य में गांव हैं जहां हर घर में केवल जुड़वा बच्चे ही पैदा होते हैं. यह गांव केरल केरल के मल्लपुरम जिले में आता है, जो आज भी रहस्य बना हुआ है. इस गांव में देश के सबसे ज्यादा जुड़वा लोग पाए जाते हैं. 

गांव में हैं 550 जुड़वा बच्चे 

यह गांव मल्लपुरम जिले में है जिसका नाम कोडिन्ही गांव है. यहां केवल जुड़वा लोग ही रहते हैं. आंकड़ों के मुताबिक, यहां 2000 परिवार हैं और 550 जुड़वा लोग हैं. गांव के ज्यादातर बच्चों की उम्र 15 साल से कम है. एक स्कूल में तो 80 जुड़वां बच्चे हैं. पूरे देश में जहां 1000 बच्चों के जन्म लेने पर 9 जुड़वा बच्चे पैदा होते हैं तो वहीं इस गांव में 1000 पर 45 जुडवां बच्चे जन्म लेते हैं.

इस गांव के स्कूल और बाजारों में आपको कई हमशक्ल बच्चे देखने को मिल जाएंगे. इस गांव में रहने वाले जुड़वा जोड़ों में सबसे उम्र दराज 65 साल के अब्दुल हमीद और उनकी जुड़वां बहन कुन्ही कदिया है. शुरुआत में तो इक्का-दुक्का जुड़वां बच्चे ही पैदा होते थे. लेकिन अब यह रफ्तार बहुत ज्यादा हो गई है. इस गांव के कुल जुड़वा बच्चों के आधे तो पिछले 10 सालों में ही पैदा हुए हैं.

ऐसा कहा जाता है कि 2006 से गांव में जुड़वा बच्चों के जन्म में तेजी आनी शुरू हुई है. आसपास के लोगों का कहना है कि इस गांव के लड़कियों की शादी जहां होती है उस परिवार में भी जुड़वां बच्चे होते हैं. बता दें कि 2016 में रिसर्च की एक जॉइंट टीम यहां पहुंची थी, ताकि इस रहल्य का पता लगाया जा सके. लेकिन रिसर्च के बाद भी अभी तक यह रहस्य नहीं खुला कि आखिर क्यों इस गांव में सिर्फ जुड़वा बच्चे ही पैदा होते हैं.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.