hindi

अगर जहर एक्सपायर हो जाए तो क्या होता है, क्या और भी ज्यादा हो जाता है जहरीला ?

0 33

जब भी आप दवा या खाने पीने की कोई चीज खरीदते हैं तो सबसे पहले एक्सपायरी डेट देखते हैं. एक्सपायरी डेट वो तारीख होती है जब तक आप उस सामान का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके बाद अगर आप सामान का इस्तेमाल करते हैं तो यह बहुत खतरनाक साबित हो सकता है. लेकिन लोगों के मन में अक्सर ऐसा सवाल भी उठता होगा कि क्या जहर का भी एक्सपायरी डेट होता है. अगर जहर एक्सपायर हो जाए तो क्या और भी ज्यादा जहरीला हो जाता है. आइए जानते हैं इस बारे में 

क्या जहर भी होता है एक्सपायर 

जहर हो या दवा इन्हें बनाने के लिए खास पैटर्न का इस्तेमाल किया जाता है. यह अलग-अलग रसायनों से मिलकर बनते हैं. जहर भी कई तरह के होते हैं, जिनको बनाने का रासायनिक समीकरण एक ही होता है. इनकी एक्सपायरी भी जहर पर निर्भर करती है. जहर का एक्सपायर होना इस बात पर निर्भर करता है कि उसे किन-किन रसायनों से मिलकर बनाया गया है. अगर कोई रसायन निश्चित समय के बाद निष्क्रिय हो जाता है तो इसका जहर पर असर पड़ता है. 

एक्सपायर होने के बाद क्या कम हो जाता है जहर का असर 

अब सवाल ये उठता है कि जब जहर एक्सपायर हो जाता है तो उसके बाद काम करना बंद कर देता है या फिर जहरीला नहीं रह जाता. तो यह भी जहर की प्रकृति पर ही निर्भर करता है. अगर रसायन का निश्चित समय बाद असर कम हो जाता है तो हो सकता है कि यह थोड़ा कम जहरीला हो जाए. लेकिन इसका यह मतलब नहीं कि कोई भी जहर एक्सपायर हो जाने के बाद काम करना बंद कर सकता है. जहर में इस्तेमाल होने वाले रसायन एक्सपायर होने के बाद कुछ और तरह का रिएक्शन दे सकते हैं, जो बहुत ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.