hindi

दुबई किसे और क्यों देता है गोल्डन वीजा, अगर किसी भारतीय के पास है यह वीजा तो क्या होगा फायदा?

0 15

संयुक्त अरब अमीरात की तरफ से कुछ दिनों पहले बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त को गोल्डन वीजा दिया गया. गोल्डन वीजा देने की शुरुआत 3 मई को यूएई ने की. फेडरल अथॉरिटी फॉर आईडेंटिटी एंड सिटीजनशिप की तरफ से इसकी शुरुआत की गई. पर यह गोल्डन वीजा क्या होता है और किसे दिया जाता है इस बारे में आज हम आपको बताने वाले हैं. 

दरअसल यह गोल्डन वीजा देने की सुविधा उन लोगों के लिए है, जो लंबे समय तक काम करने या बिना किसी नेशनल स्पॉन्सर के आते हैं. इस वीजा को हासिल करने वाले व्यक्ति के पास में अपने बिजनेस को मालिकाना हक के साथ करने की सुविधा होगी. इस वीजा के मिलने पर कोई भी व्यक्ति 5 या 10 साल तक दुबई या फिर यूएई के किसी भी शहर में रह सकता है. इसके लिए उन्हें वीजा को रिन्‍यू नहीं कराना होगा. 

दुबई को कैसे होगा फायदा 

इसकी शुरुआत निवेशकों और व्यापारियों के लिए की गई थी. हालांकि कोरोना महामारी की वजह से जब पर्यटकों की संख्या में कमी हुई, तो 2020 में इसमें स्पेशल डिग्री, डॉक्टरों, वैज्ञानिकों के लिए इसके प्रयोग के लिए मंजूरी दी गई. गोल्‍डन वीजा हासिल करने वाले व्यक्तियों को सरकार की तरफ से सुविधा भी मुहैया कराई जाती है. 

ऐसे कर सकते हैं अप्लाई 

गोल्डन वीजा के लिए आप ICA की वेबसाइट के जरिए संपर्क कर सकते हैं. इसके अलावा GDRFA के जरिये भी अप्लाई किया जा सकता है. ऐसे में आप ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीकों से आवेदन कर सकते हैं. आपको वीजा हासिल करने के लिए जरूरी दस्तावेजों और अपने बिजनेस को यूएई शिफ्ट करने से जुड़े कागजात जमा करने होंगे. 

वही व्यक्ति इस वीजा के लिए आवेदन कर सकते हैं जिनकी आय संयुक्त अरब अमीरात की मुद्रा दिरहम के हिसाब से एक करोड़ से ज्यादा हो. डॉक्टर, रिसर्च, वैज्ञानिक और कलाकार ऐसे विशेष प्रतिभा से जुड़े लोगों को उनके संबंधित विभाग और क्षेत्रों द्वारा दी गई मान्यता के बाद 10 साल तक का वीजा मिल सकता है. वीजा उनके जीवन साथी और बच्चों को भी दिया जाएगा.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.