hindi

क्या सच में पर्यावरण और जानवरों के लिए हानिकारक है 5जी सर्विस? जानिए एक्सपर्ट्स की राय

0 12

बॉलीवुड अभिनेत्री जूही चावला ने दिल्ली हाई कोर्ट में 5G सेवा को शुरू करने के खिलाफ एक याचिका दायर की थी. उन्होंने 5G को पर्यावरण और जानवरों के लिए खतरनाक बताया था और इसे कैंसिल करने की मांग की थी, जिसे कोर्ट ने ठुकरा दिया और एक पब्लिसिटी स्टंट करार दिया. लेकिन क्या सच में 5जी से पर्यावरण और जानवरों को खतरा है. आइए जानते हैं क्या कहते हैं एक्सपर्ट.

5जी सर्विस को इस समय दुनिया के कई देशों में लॉन्च किया जा रहा है. रीसचर्स की तरफ से भी इसको लेकर चिंता जताई गई कि 5G से इंसान और पर्यावरण को खतरा हो सकता है. इसे रोका जाना चाहिए. 4G की तुलना में 5जी को एक हजार गुना ज्यादा तेज बताया जा रहा है. यह कहा जा रहा है कि 5G आने के बाद आप अपने फोन में 100जीबी प्रति सेकेंड की रफ्तार से 4000 वीडियोज देख सकेंगे.

5G की लॉन्चिंग को लेकर को लेकर कई तरह की गलत खबरें भी फैलाई जा रही हैं. एक रिपोर्ट में तो यह भी दावा किया गया था कि 5G की वजह से नीदरलैंड्स में सैकड़ों चिड़िया मर गई थी. लेकिन बाद में यह खबर अफवाह साबित हुई. बता दें कि 5G को लेकर जो चिंता है, वह अत्यधिक हाई फ्रिक्‍वेंसी की वजह से है. बताया जा रहा है कि इसकी फ्रिक्‍वेंसी 30 से लेकर 300 गिगाहर्ट्ज तक होने वाली है.

वैज्ञानिकों के मुताबिक, 5जी सर्विस में हर 100 से 200 मीटर की दूरी पर एक एंटेना होगा, जिससे जानवरों और पर्यावरण पर काफी प्रभाव पड़ेगा. हालांकि दूसरी तरफ कई वैज्ञानिकों का यह दावा है कि 5जी पूरी तरह से सुरक्षित है. अभी तक ऐसे कोई भी सबूत नहीं मिला मिले हैं जिसकी वजह से यह कहा जा सके कि 5जी की वजह से जानवरों को नुकसान पहुंचता है. 5जी को लेकर कई तरह की रीसर्च की जा चुकी हैं. लेकिन अभी तक कोई ठोस सबूत नहीं मिला है कि 5जी की वजह से पर्यावरण और जानवरों को खतरा है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.