hindi

इस ट्रेन में रेलवे लगाने जा रहा है हवाई जहाज वाला बायो टॉयलेट, अब पटरियों पर नहीं गिरेगी गंदगी, जानिए कैसे करता है काम

0 34

भारतीय रेल तेजी से आधुनिकता की ओर बढ़ रही है. साथ ही पर्यावरण संरक्षण का भी पूरा ध्यान रखा जा रहा है, जिसके चलते अब रेल की सुविधाओं में भी बदलाव हो रहे हैं. रेलवे ने स्वच्छ रेल-स्वच्छ भारत अभियान के तहत पूर्वोत्तर रेलवे की ट्रेनों में अब बायो टॉयलेट लगाने शुरू कर दिए हैं, जिससे अब गंदगी पटरियों पर नहीं गिरेगी.

भारतीय रेलवे के मुताबिक, अब डबल डेकर ट्रेन बायो टॉयलेट के बिना नहीं चलेगी. स्वच्छ रेल स्वच्छ भारत अभियान के तहत पूर्वोत्तर रेलवे की ट्रेनों में लगने वाले कुल तीन हजार 355 कोचों में बायो टॉयलेट लगा दिए गए हैं. दिल्ली से लखनऊ के बीच चलने वाली डबल डेकर ट्रेन के 14 और 23 हाइब्रिड कोच में बायो टॉयलेट लगना बाकी रह गए हैं. 

बायो टॉयलेट कैसे करता है काम 

बायो टॉयलेट सामान्य टॉयलेट की तरह नहीं होता. इसमें गंदगी नीचे नहीं गिरती है. पानी में घुलकर कुछ बह जाती है और कुछ गैस बन कर हवा में उड़ जाती है. इस प्रोसेस के लिए बायो टॉयलेट के टैंक में बैक्टीरिया डाले जाते हैं. आने वाले दिनों में ट्रेनों में भी हवाई जहाज में लगने वाले अति आधुनिक वैक्यूम बायो टॉयलेट लगेंगे जिसकी फिलहाल हमसफर एक्सप्रेस के एक रेक में रेस्टिंग की जा रही है. इस टॉयलेट में गंदगी और बदबू नहीं फैलती है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.