hindi

जानिए आखिर ट्रेन को चलाने में क्या होती है स्टेशन मास्टर रोल,कितनी होती है इसकी सैलरी

0 17

भारत में हर छोटे-बड़े रेलवे स्टेशन की देखरेख के लिए स्टेशन मास्टर होता है. स्टेशन परिसर में ही उसका दफ्तर भी होता है. स्टेशन मास्टर को कई महत्वपूर्ण काम करने पड़ते हैं. यात्रियों को मिलने वाली सुविधा की प्लानिंग भी स्टेशन मास्टर ही करता है. 

स्टेशन मास्टर के काम और जिम्मेदारियां

स्टेशन मास्टर को स्टेशन का प्रमुख भी कहा जाता है. स्टेशन मास्टर की स्टेशन से गुजरने वाली सभी ट्रेनों के संचालन में अहम भूमिका होती है. अपनी ड्यूटी के दौरान स्टेशन मास्टर को हर गतिविधि पर नजर रखनी पड़ती है. छोटी सी गलती से भी बड़ा हादसा हो सकता है. रेलवे स्टेशन पर आने वाले सभी यात्रियों की सुरक्षा सुविधाओं की देखरेख करना भी स्टेशन मास्टर का काम होता है. 

अगर कोई कुली किसी यात्री के साथ दुर्व्यवहार करता है या कोई कुली को परेशान करता है तो यह सारा मामला स्टेशन मास्टर ही देखता है. स्टेशन मास्टर को यात्रियों की शिकायत को दर्ज करना पड़ता है और कार्यवाही भी करनी होती है. इतना ही नहीं रेलवे स्टेशन के सभी पॉइंट, सिग्नल, पैनल की जांच भी स्टेशन मास्टर को करनी होती है

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.