hindi

बालकनी से कूदकर अपनी जान देना चाहता था ये भारतीय क्रिकेटर, रह चुका है वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम का हिस्सा

0 32

भारत की 2007 T20 वर्ल्ड कप विजेता टीम के सदस्य रह चुके रॉबिन उथप्पा ने अपने क्रिकेट करियर और जीवन से जुड़े कई बड़े खुलासे किए. उन्होंने यह भी बताया कि अपने करियर के दौरान वे 2 साल तक डिप्रेशन का शिकार रहे. इस दौरान उन्हें आत्महत्या जैसे ख्याल भी आते थे. वह एक बार तो बालकनी से कूदकर अपनी जान देना चाहते थे.

रॉबिन उथप्पा को इस साल आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स ने 3 करोड़ रुपए में खरीदा. उथप्पा ने रॉयल राजस्थान फाउंडेशन के एक लाइव सत्र माइंड, बॉडी एंड सोल में कहा- मुझे याद है 2009 से 2011 के बीच लगातार ऐसा हो रहा था. मुझे हर रोज इसका सामना करना पड़ता था. उस समय में क्रिकेट के बारे में सोच भी नहीं रहा था. मैं बस यह सोचता था कि आज कैसे रहूंगा और अगला दिन कैसा होगा.

उथप्पा ने बताया- उन दिनों में इधर-उधर बैठकर यही सोचता था कि मैं दौड़ कर जाऊं और बालकनी से कूद जाऊं. लेकिन उस समय मैंने डायरी लिखना शुरू किया. उन्होंने बताया कि मैंने एक इंसान के तौर पर खुद को समझने की प्रक्रिया शुरू की. इसके बाद बाहरी मदद ली, ताकि मैं अपने जीवन में बदलाव ला सकूं. बता दें कि अभी तक रॉबिन उथप्पा ने क्रिकेट से संन्यास नहीं लिया है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.