hindi

न्यूजीलैंड के खिलाफ मैदान पर उतरते ही कोहली तोड़ देंगे पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का रिकॉर्ड, लॉयड को भी छोड़ सकते हैं पीछे

0 21

18 जून से भारत और न्यूजीलैंड के बीच विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबला खेला जाएगा. इस मुकाबले के पहले दिन मैदान पर उतरते ही विराट कोहली बड़ा कारनामा कर देंगे. बता दें कि डब्लूटीसी के फाइनल मुकाबले में मैदान पर उतरते ही विराट कोहली सर्वाधिक टेस्ट मैचों में भारत की कप्तानी करने वाले कप्तान बन जाएंगे. यदि वो इस मैच को जीते हैं तो दुनिया के सबसे सफल कप्तानों की सूची में चौथे नंबर पर पहुंच जाएंगे. अब तक भारतीय टीम ने कोहली की कप्तानी में 60 टेस्ट मैच खेले हैं और वो महेंद्र सिंह धोनी की बराबरी पर है.

18 जून से होने वाले डब्लूटीसी के फाइनल में मैदान पर उतरते ही विराट कोहली भारत की ओर से सर्वाधिक टेस्ट मैचों में कप्तानी का रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज कर लेंगे. कोहली इस साल की शुरुआत में इंग्लैंड के विरुद्ध ये रिकॉर्ड अपने नाम कर लेते. लेकिन पहले बच्चे के जन्म के कारण वो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी तीन टेस्ट मैच नहीं खेले थे. इन मैचों में टीम इंडिया की कप्तानी भारतीय टीम के उपकप्तान रहाणे ने की थी. एक टेस्ट मैच जीतने के साथ ही कोहली दुनिया के चौथे सबसे सफल कप्तान बन जाएंगे और वो सर्वाधिक मैचों में जीत करने वाले कप्तानों की सूची में शुमार वेस्टइंडीज के दिग्गज क्लाइव लॉयड को पीछे छोड़ देंगे.

बता दें कि क्लाइव लॉयड की कप्तानी में वेस्टइंडीज की टीम ने 74 टेस्ट मैच खेले, जिसमें से 36 मैचों में उनकी टीम ने जीत हासिल की. बतौर कप्तान सर्वाधिक बार जीतने का रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ के नाम है, जिनकी कप्तानी में दक्षिण अफ्रीका की टीम ने 109 मैचों में से 53 मैचों में जीत दर्ज की. दूसरे नंबर पर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग आते हैं, जिनकी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने 77 टेस्ट मैच खेले और 48 मैचों में जीत हासिल की. तीसरे नंबर पर स्टीव वॉ आते हैं, जिनकी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने 57 में से 41 मैचों में जीत दर्ज की.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.