hindi

बार-बार भगाने पर भी शरीर पर ही आकर बैठती हैं मक्खियां, आखिर क्यों?

0 17

मक्खियां हर व्यक्ति को परेशान करती हैं. गर्मी और बारिश के मौसम में तो मक्खियां सबसे ज्यादा परेशान करती हैं. मक्खियां खाने पर आकर बैठ जाती है जिस वजह से बीमारियां भी फैलती हैं. हम मक्खियों को अपने शरीर से बार-बार हटाते हैं, फिर भी यह आकर हमारे शरीर पर ही बैठ जाती हैं. आखिर यह हमारे शरीर पर ही आकर क्यों बैठती हैं. क्या जानते हैं आप.

मक्खियों के बारे में कहा जाता है कि उनकी सूंघने की क्षमता बहुत तेज होती है. एक बार मक्खियों के मुंह जिस चीज का स्वाद लग जाता है, वह उसे नहीं भूलती और आकर बार-बार उसी जगह पर बैठ जाती हैं. द स्टेट्समैन में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक, मक्खियों का मुंह बहुत नाजुक होता है. ये इंसानों के शरीर पर बैठकर नहीं काटती बल्कि यह त्वचा से खाना चूस्ती हैं. मक्खियां इंसानों के शरीर से निकलने वाला कार्बन डाइऑक्साइड चूस्ती हैं.

गर्मियों के दिनों में शरीर से निकलने वाले पसीने की तरफ मक्खियां आकर्षित होती हैं. ऐसा कहा जाता है कि मक्खियां अपने पैरों से स्वाद चखती हैं. मक्खियां इंसान के शरीर पर तभी बैठती हैं, जब वहां भोजन होता है. मक्खी हर रोज से 30-50 अंडे देती हैं, जिनका आकार 3 मिलीमीटर होता है. 1933 में वैज्ञानिक थॉमस हंट मॉर्गन ने एक रिसर्च की थी जिसमें यह पता चला था कि जिस तरह इंसानों के जीन में डीएनए एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी तक जाता है, उसी तरह 75 फीसद बीमारियों की वजह के जीन मक्खियों में पाए जाते हैं.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.