hindi

ऋषभ पंत के चौके को लेकर छिड़ी नई बहस, आकाश चोपड़ा ने पूछा- अगर ऐसा वर्ल्ड कप फाइनल में होता तो?

0 13

ऋषभ पंत के चौके विवाद ने एक नई बहस शुरू कर दी है. पूर्व भारतीय क्रिकेटर और मौजूदा कमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने ऋषभ पंत को नॉट आउट होने के बावजूद चार रन न मिलने पर नाराजगी जाहिर की. आकाश चोपड़ा ने आईसीसी के डेड बॉल के इस नियम पर भी सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा कि अगर वर्ल्ड कप के फाइनल मैच की आखिरी गेंद पर भी ऐसा ही हुआ होता तो फिर क्या होता.

बता दें कि भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए दूसरे वनडे मैच में गेंद पंत के बल्ले से लगकर बाउंड्री पार चली गई थी. लेकिन एलबीडब्ल्यू की अपील पर अंपायर द्वारा आउट दिए जाने के चलते पंत के खाते में रन ही जुड़ सके थे. आकाश ने पंत को चौका ना दिए जाने को लेकर ट्वीट करते हुए लिखा- तो, पंत ने अंपायरिंग की गलती की वजह से चार रन गंवा दिए. इसको 101010364वीं बार रिपीट करके- क्या होता अगर यह वर्ल्ड कप के फाइनल मैच की आखिरी गेंद पर हुआ होता और बैटिंग टीम को जीतने के लिए 2 रनों की जरूरत होती? सोचो सोचो.

बता दें कि टीम इंडिया के 40वें ओवर के दौरान ऋषभ पंत ने टॉम कर्रन की आखिरी गेंद पर रिवर्स स्कूप शॉट खेलने की कोशिश की. लेकिन बॉल और बैट का सही से संपर्क नहीं हो सका. इंग्लैंड के खिलाड़ियों को लगा कि बॉल पैड पर लगी है और उन्होंने एलबीडब्ल्यू की अपील कर दी. ऑन फील्ड अंपायर ने तो पंत को आउट करार दिया. लेकिन पंत ने डीआरएस लिया.

रिप्ले में साफ पता चल रहा था कि गेंद उनके बल्ले से लगकर बाउंड्री पार गई है. थर्ड अंपायर ने ऋषभ पंत को नॉट आउट करार दिया. लेकिन फिर भी ऋषभ पंत और भारतीय टीम के खाते में 4 रन जुड़े. दरअसल, आईसीसी के नियम के मुताबिक अगर एलबीडब्ल्यू की अपील को बल्लेबाज को ऑन फील्ड अंपायर द्वारा आउट करार दिया जाता है तो यह गेंद उसी समय पर डेड मार ली जाती है और उस पर कोई रन नहीं मिलता.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.