hindi

पढ़ाई में था जीरो, लेकिन डेब्यू मैच में ही तूफानी पारी खेल बन गया हीरो

0 13

इंग्लैंड के विरुद्ध T20 सीरीज के दूसरे मुकाबले में ईशान किशन ने शानदार अर्धशतकीय पारी खेली. यह ईशान किशन का डेब्यू मैच था. ईशान किशन अपने डेब्यू मैच में शानदार प्रदर्शन को लेकर सुर्खियों में बने हुए हैं. आईपीएल के 13वें सीजन में भी ईशान किशन ने खूब सुर्खियां बटोरी थी. ईशान किशन ने 516 रन बनाए थे और सबसे ज्यादा 30 छक्के भी लगाए थे.

ईशान किशन को जब टीम इंडिया में डेब्यू का मौका मिला तो उन्होंने इसका पूरा फायदा उठाया और यह दिखा दिया कि उन्होंने आखिर क्यों पढ़ाई से ज्यादा क्रिकेट को अहमियत दी. आज उन्हें इस बात का अफसोस नहीं होगा कि उन्हें क्रिकेट की वजह से स्कूल से गायब रहने पर बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था.

बता दें कि क्रिकेट में अपना करियर बनाने के लिए इशान किशन ने 12 साल पहले बिहार को छोड़कर झारखंड की तरफ अपना रुख किया था. ईशान किशन पढ़ाई में बेहद कमजोर थे. वह क्रिकेट की वजह से अक्सर स्कूल से गायब रहा करते थे, जिस वजह से 9वीं कक्षा में उन्हें स्कूल से बाहर कर दिया गया था. ईशान किशन ने किसी तरह से पटना के समीप दानापुर के स्कूल से दसवीं की परीक्षा पास थी.

ईशान किशन के क्रिकेटर बनने में उनके बड़े भाई राज किशन का अहम योगदान रहा है. ईशान किशन के पिता प्रणव पांडेय ने कहा- आज मेरा ही नहीं, पूरे बिहार का सपना ईशान ने पूरा किया है. वह और लंबी पारी खेल सकता था. मुझे उम्मीद है कि बड़े खिलाड़ियों के साथ ड्रेसिंग रूम में समय बिताने से उसका अनुभव बढ़ेगा और वह लंबे समय तक टीम इंडिया की सेवा कर सकेगा.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.