hindi

पाकिस्तान को गौतम गंभीर ने दिया करारा जवाब, बोले- हमारे लिए सैनिक जरूरी क्रिकेट नहीं

0 14

पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर ने भारत और पाकिस्तान के बीच फिर से क्रिकेट शुरू करने के विचार का कड़ा विरोध किया. उनका मानना है कि जब तक पाकिस्तान जम्मू एंड कश्मीर में सीमा पर आतंकवाद को बंद नहीं कर देता, तब तक भारत को अपने इस पड़ोसी देश के साथ क्रिकेट नहीं खेलना चाहिए. गंभीर ने कहा- आखिरकार क्रिकेट कोई मायने नहीं रखता, बल्कि सैनिक मायने रखते हैं.

अंतरराष्ट्रीय दबाव का सामना कर रहे पाकिस्तान ने हाल ही दावा किया था कि वह अपने देश में पनप रहे आतंकी समूहों पर शिकंजा कस रहा है. लेकिन फिर भी पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों को भेजने का काम अभी भी जारी रख रहा है. पिछले कुछ हफ्तों में केंद्र शासित प्रदेशों में कई आतंकी हमले हुए हैं.

गंभीर ने कहा- मैंने देश के लिए खेलकर और मैच जीतकर कोई उपकार नहीं किया. लेकिन किसी ऐसे व्यक्ति को देखें जो सियाचिन या पाकिस्तानी सीमा पर हमारा बचाव कर रहा है और थोड़े से पैसे लेकर ही अपनी जान जोखिम में डाल रहा है, असल में वह हमारे देश के सबसे महान नायक हैं.

गंभीर ने कहा कि वह बचपन से भारतीय सेना में जाना चाहते थे. लेकिन जब वह स्कूल में थे तो उन्होंने ट्रॉफी में खेलना शुरू कर दिया. उनके माता-पिता ने उन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत के लिए खेलने के लिए मनाया था. यह देश के लिए खड़े होने का एक और तरीका था, इसी वजह से मैं राजी हो गया.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.