hindi

बुमराह और सिराज ही नहीं भारतीय प्रशंसकों के साथ भी सिडनी में हुआ था नस्लवाद

0 40

भारतीय टीम का ऑस्ट्रेलिया दौरा खत्म हो चुका है. ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारतीय टीम ने बॉर्डर-गावस्कर सीरीज में 2-1 से जीत हासिल की. हालांकि इस सीरीज के दौरान भारतीय खिलाड़ियों के साथ बुरा व्यवहार हुआ. सिडनी और ब्रिस्बेन टेस्ट के दौरान भारतीय खिलाड़ियों के साथ ऑस्ट्रेलियाई दर्शकों ने नस्लीय टिप्पणी की. केवल खिलाड़ियों के ऊपर ही नहीं बल्कि भारतीय प्रशंसकों पर भी निशाना साधा गया.

हालांकि भारतीय खिलाड़ियों ने अंपायर से शिकायत की जिसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने 6 ऑस्ट्रेलियाई दर्शकों को स्टेडियम से बाहर भी कर दिया था. एक भारतीय क्रिकेट प्रेमी ने मैच के बाद खुलासा किया था कि सिडनी मैच के दौरान उन पर भी नस्लीय टिप्पणी की गई थी. ग्राउंड स्टाफ ने तो उन्हें यहां तक कह दिया था कि वह जहां से आए हैं, वहां वापस चले जाएं.

सीएनएन से बात करते हुए भारतीय प्रशंसक कृष्ण कुमार ने कहा कि उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई दर्शकों की अजीब नारेबाजी सुनी थी. उन्होंने बताया कि सिडनी टेस्ट के तीसरे दिन खेल का सबसे बदसूरत नजारा देखने को मिला. उनके लिए विश्वास करना मुश्किल था कि मैदान के स्टाफ और सुरक्षा अधिकारी इन बातों को नहीं सुन पा रहे थे. उन्होंने कोई एक्शन नहीं लिया. बता दें कि कृष्ण कुमार सिडनी मैदान पर कुछ बैनर्स के साथ गए थे, जिस पर लिखा था कि ‘प्रतिद्वंद्विता अच्छी है, नस्लवाद नहीं है’, ‘नस्लवाद नहीं दोस्त’, ‘भूरा रंग मायने रखता है’, ‘क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया अधिक विविधता अपनाये’.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.