hindi

जानें कब तक प्राणियों को बचाए रख पाएगी पृथ्वी की कोर

0 26

पृथ्वी में बहुत सारी खूबियां हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि पृथ्वी पर जीवन के अनुकूल हालातों के लिए सबसे बड़ी वजह पृथ्वी की कोर का अधिक गर्म होना है. इसे पृथ्वी का हृदय भी कहा जाता है. वैज्ञानिकों ने यह भी जानने का प्रयास किया कि पृथ्वी कब तक अपने जीवन को बचाए रख सकेगी. यानी कि कब तक उसकी कोर गर्म रह सकेगी.

पृथ्वी की कोर की बहुत-सी प्रक्रियाओं में महत्वपूर्ण भूमिका रहती है. यह टेक्स्टॉनिक प्लेट को गतिमान करती है. साथ ही यह सूर्य के खतरनाक विकिरण से धरती के लिए रक्षा कवच भी बनाती है. इसी से एक ताकतवर मैग्नेटिक फील्ड भी पैदा होता है. हालांकि इसके लिए बहुत अधिक ऊर्जा खर्च होती है, जिस वजह से पृथ्वी की कोर लगातार ठंडी हो रही है.

क्या आप जानते हैं कि पृथ्वी की कोर का तापमान आज भी सूर्य की सतह से ज्यादा है. यह तापमान 10,000 डिग्री सेल्सियस तक है. पृथ्वी का मैग्नेटिक फील्ड अंतरिक्ष में बहुत दूर तक जाता है. इसी वजह से ऊर्जावान इलेक्ट्रॉन पृथ्वी से नहीं टकराते और पृथ्वी के पास फटकते भी नहीं हैं. लेकिन अगर ऐसा ना होता तो हमारी ओजोन परत को सौर पवनें उड़ा देती और पराबैंगनी विकिरण पृथ्वी पर छा जाती.

बता दें कि इस क्षेत्र को वन एलेन बेल्ट कहा जाता है. पृथ्वी की कोर को गर्म करने में रेडियोधर्मी पदार्थों का भी बड़ा योगदान रहता है. यह पदार्थ विघटन प्रक्रिया से पृथ्वी की क्रोड़ को गर्म करने में मदद करते हैं. हालांकि अगर पृथ्वी की क्रोड़ तेजी से भी ठंडी हुई तो यह प्रक्रिया बीसियों अरब साल में पूरी हो पाएगी. उससे पहले ही सूर्य ठंडा होकर मर चुका होगा, जिसमें अभी 5 अरब साल लगेंगे. ऐसे में हमें चिंता करने की जरूरत नहीं है.
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.