hindi

चोटिल होने के बावजूद 3 घंटे तक बल्लेबाजी करता रहा है ये भारतीय बल्लेबाज, 6 ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को किया पस्त

0 10

ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेला गया टेस्ट सीरीज का चौथा मुकाबला आज पांचवें दिन ड्रॉ हो गया. इस मुकाबले को ड्रॉ कराने के साथ ही भारतीय टीम में अपनी मजबूती का परिचय दिया. इस टेस्ट मैच को ड्रॉ कराने में एक भारतीय खिलाड़ी की बहुत बड़ी भूमिका रही. इस खिलाड़ी ने चोटिल होने के बावजूद भी 3 घंटों तक बल्लेबाजी की और 6 ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को पस्त किया.

हम बात कर रहे हैं हनुमा विहारी की. हनुमा विहारी ने ऑस्ट्रेलिया के जीत के मंसूबों पर पानी फेर दिया. दरअसल चौथे दिन के खेल के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम ऐसा सोचती थी कि वो आसानी से भारतीय टीम को हरा देगी. लेकिन ऑस्ट्रेलियाई टीम के मंसूबों पर हनुमा विहारी और अश्विन ने पानी फेर दिया. हनुमा विहारी को हैमस्ट्रिंग इंजरी होने के बाद भी वे मैदान पर फिजियो की मदद लेने के बाद खड़े हुए और उन्होंने मैदान नहीं छोड़ा. हनुमा विहारी पर सभी की उम्मीदें टिकी थी. हनुमा विहारी ने 161 गेंदों में 23 रन बनाए.

भारतीय टीम का चेतेश्वर पुजारा के रूप में 272 रनों पर पांच विकेट गिरा. इसके बाद हनुमा विहारी ने अश्विन के साथ मिलकर स्कोर को 334 रनों तक आगे बढ़ाया और कोई विकेट नहीं गिरने दिया. पांचवें दिन आखिरी गेंद फेंके जाने तक हनुमा विहारी मैदान पर ही डटे रहे. हालांकि अब चोट के कारण वे चौथा मुकाबला नहीं खेल पाएंगे.

हनुमा विहारी ने ऑस्ट्रेलिया के 6 गेंदबाजों मिचेल स्टार्क, जोश हेजलवुड, पैट कमिंस, नाथन लियोन, कैंमरून ग्रीन और मार्नस लाबुशाने को पस्त कर किया. इन्होंने हनुमा विहारी को आउट करने का पूरा प्रयास किया. चोटिल होने के बावजूद भी हनुमा विहारी ने अपना विकेट नहीं गिरने दिया. एक छोर पर उन्होंने टिककर बल्लेबाजी की. भले ही उन्होने कम रन बनाए और लेकिन अंत तक अपना विकेट नहीं गिरने दिया.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.