Feb 13, 2024, 20:55 IST

वो मैच जब मैदान पर आया था वीरेंद्र सहवाग का तूफान, एक पारी में चौके-छक्के से ठोंक दिए थे 202 रन

JKKLK

वीरेंद्र सहवाग दुनिया भर में अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं. वह टेस्ट क्रिकेट में भारत की तरफ से दो तिहरे शतक लगाने वाले इकलौते खिलाड़ी हैं. वीरेंद्र सहवाग के लिए 4 दिसंबर का दिन बेहद खास रहता है. इस दिन 2009 में वीरेंद्र सहवाग एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर सकते थे. एक ऐसा रिकॉर्ड जिसे आज तक कोई भी बल्लेबाज नहीं बना सका है. हालांकि वह इस रिकॉर्ड से केवल 7 रन दूर रह गए.

वीरेंद्र सहवाग ने आज ही के दिन 2009 में मुंबई के ब्रेबोन स्टेडियम में 293 रन की पारी खेली थी और वह टेस्ट क्रिकेट में तीसरा तिहरा शतक लगाने से केवल 7 रन चूक गए. अगर वीरेंद्र सहवाग यह रिकॉर्ड अपने नाम कर लेते तो ऐसा करने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बन जाते. यह कमाल तो डॉन ब्रैडमैन ही नहीं कर पाए थे.

भारत और श्रीलंका के बीच 2 दिसंबर से मुंबई के ब्रेबोन स्टेडियम में टेस्ट मैच शुरू हुआ था. पहली पारी में श्रीलंका की टीम 393 रन बनाकर ढेर हो गई, जिसके जवाब में भारतीय टीम ने 1 विकेट के नुकसान पर 243 रन बना लिए थे. वीरेंद्र सहवाग 284 और राहुल द्रविड़ 69 रन बनाकर खेल रहे थे. सबको उम्मीद थी कि वीरेंद्र सहवाग 300 रन का आंकड़ा छू लेंगे. लेकिन मुथैया मुरलीधरन ने उनको आउट कर दिया और वह 293 रन बनाकर पवेलियन लौट गए.

वीरेंद्र सहवाग ने इस पारी में 40 चौके और 7 छक्के लगाए थे, जबकि उन्होंने 254 गेंद खेली थीं. सहवाग ने 202 रन तो बाउंड्री से बनाए थे. इस मुकाबले में भारत ने 9 विकेट पर 726 रन बनाकर पारी घोषित कर दी. इसके बाद दूसरी पारी में श्रीलंका की टीम 309 रन पर ढेर हो गई और टीम इंडिया पारी और 24 रन के अंतर से मैच जीत गई.

Advertisement