Fri, 26 Nov 2021

इकलौता भारतीय बल्लेबाज, जिसने टेस्ट में लगातार चार पारियों में लगाए चार शतक

lkkl

राहुल द्रविड़ भारतीय टीम के हेड कोच बन गए हैं. अपने क्रिकेट करियर में राहुल द्रविड़ ने शानदार प्रदर्शन किया और खूब रन बनाए. राहुल द्रविड़ की गिनती भारत के सफल टेस्ट बल्लेबाजों में होती है. आपको यह जानकर भी हैरानी होगी कि राहुल द्रविड़ टेस्ट क्रिकेट की लगातार चार पारियों में चार शतक लगाने वाले एकमात्र भारतीय बल्लेबाज है. 2002 में इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के विरुद्ध राहुल द्रविड़ ने लगातार चार पारियों में चार शतक लगाने का रिकॉर्ड बनाया था.

1996 में राहुल द्रविड़ ने इंग्लैंड के विरुद्ध अपना डेब्यू टेस्ट मैच खेला था, जिसमें 95 रन बनाए थे. जबकि उन्होंने अपने करियर का पहला टेस्ट शतक 1997 में दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध लगाया था. यह उनके टेस्ट करियर का नौवां मैच था. राहुल द्रविड़ ने इस मुकाबले में पहली पारी में 148 रन और दूसरी पारी में 81 रन बनाए थे. राहुल द्रविड़ ने अपने क्रिकेट करियर में कई यादगार पारियां खेली. लेकिन उनकी सर्वश्रेष्ठ पारी 2003 में एडिलेड टेस्ट की रही. इस मुकाबले में उन्होंने दोनों पारियों में कुल मिलाकर 305 रन बनाए थे और इस मैच में भारतीय टीम ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया की धरती पर 20 साल बाद जीत हासिल की थी.

2002 में राहुल द्रविड़ का प्रदर्शन बहुत ही शानदार रहा, जिसमें 16 मैचों में उन्होंने 1357 रन बनाए. इसी साल उन्होंने चार पारियों में लगातार चार शतक भी लगाए थे. द्रविड़ ने इंग्लैंड के विरुद्ध टेस्ट सीरीज के दूसरे मुकाबले की दूसरी पारी में 244 गेंदों में 115 रन बनाए थे. इसके बाद तीसरे टेस्ट की दोनों पारियों में उन्होंने 148 और 110 रन बनाए थे. फिर अंतिम मुकाबले में द्रविड़ ने इंग्लैंड के खिलाफ 217 रन की पारी खेली थी. इसके बाद अक्टूबर में उन्होंने वेस्टइंडीज के विरुद्ध पहले टेस्ट की पहली पारी में 100 रन बनाए थे.

Advertisement