Feb 13, 2024, 12:30 IST

दुनिया का इकलौता क्रिकेटर जो इंग्लैंड और भारत दोनों ही देशों के लिए खेल चुका है क्रिकेट

bbb

विश्व क्रिकेट में एक से बढ़कर एक खिलाड़ी हैं, जो कि अपनी टीम को जिताने में जी जान लगा देते हैं. इंग्लिश टीम में कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो कि दूसरे देशों से हैं. लेकिन भारत में ऐसा नहीं है. आज हम आपको विश्व के एकमात्र क्रिकेटर के बारे में बता रहे हैं जिसने इंग्लैंड और भारत दोनों देशों के लिए क्रिकेट खेला है. 

हम बात कर रहे हैं पूर्व भारतीय कप्तान इफ्तिखार अली खान की, जिन्हें नवाब पटौदी सीनियर के नाम से भी जाना जाता है. उनका जन्म पंजाब के पटौदी में हुआ था. वह पटौदी खानदान के आठवें नवाब थे. इफ्तिखार अली खान ने अपनी पढ़ाई इंग्लैंड की सबसे प्रतिष्ठित ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से पूरी की. वो इंग्लैंड में क्लब क्रिकेट खेलते हुए सबकी नजरों में आ गए. कॉलेज के दौरान उन्होंने इंलॉर्ड्स के मैदान पर 165 रनों की पारी खेली. जिसके तुरंत बाद उनको ऐशेज सीरीज के लिए इंग्लैंड की टीम में जगह मिल गई. 

ऐशेज सीरीज के पहले मैच में ही उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में 102 रन की पारी खेली और तहलका मचा दिया. हालांकि बाद में खराब प्रदर्शन के चलते उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया. उन्होंने इंग्लैंड के लिए आखिरी बार 1934 में टेस्ट मैच खेला था. इफ्तिखार अली खान ने टीम इंडिया के लिए 1932 में अपना पहला टेस्ट मैच खेला. इफ्तिखार अली खान को टीम का कप्तान बनाए जाने का प्रस्ताव था. लेकिन उन्होंने अपना नाम कप्तानी से पीछे खींच लिया. 

1936 के इंग्लैंड दौरे पर उनको अधिकारिक रूप से कप्तान नियुक्त किया गया. लेकिन खराब स्वास्थ्य के चलते वह टीम से बाहर हो गए. आखिरकार 1946 में इंग्लैंड दौरे पर वह पल आया जब इफ्तिखार अली खान भारत के लिए टेस्ट मैच खेले और टीम की कप्तानी भी की. इफ्तिखार अली खान ने टीम इंडिया के लिए केवल तीन टेस्ट मैच खेले. वह वापस इंग्लैंड जाकर काउंटी क्रिकेट खेलना चाहते थे. लेकिन उससे पहले ही दिल्ली में पोलो खेलने के दौरान उनको दिल का दौरा पड़ गया और 41 साल की उम्र में उनका निधन हो गया.

Advertisement