Feb 13, 2024, 11:00 IST

क्रिकेट इतिहास का 137 साल पुराना वो रिकॉर्ड, जिसे आज तक नहीं तोड़ पाया कोई भी

BVV

मैच में बल्लेबाज पर टीम के स्कोर को आगे ले जाने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी होती है. ओपनर और मध्यक्रम के बल्लेबाजों पर पूरा दारोमदार रहता है. लेकिन जब कोई बल्लेबाज निचले क्रम पर मैदान पर उतरता है और अपनी बल्लेबाजी से धमाल मचा देता है, तो कई तो कई बार इतिहास भी बन जाता है. आज हम आपको क्रिकेट इतिहास के एक ऐसे ही रिकॉर्ड के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि 137 साल पहले बना था और आज तक नहीं टूटा है. 

इंग्लिश क्रिकेटर वाल्टर रीड के नाम ऐसा ही अनोखा रिकॉर्ड है. वो टेस्ट क्रिकेट में 10वें नंबर पर सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं. अगस्त 1884 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 10वें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए वाल्टर रीड ने 117 रन बनाए थे. हालांकि आज तक वाल्टर रीड का यह रिकॉर्ड कोई भी नहीं तोड़ पाया है. 

वाल्टर रीड ने अपने टेस्ट करियर में 18 मैच खेले. इस दौरान वो ज्यादातर चौथे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरे. उन्होंने पांचवे और छठवें नंबर पर भी बल्लेबाजी की. हालांकि ओवल टेस्ट में इंग्लिश कप्तान लोड हैरिस ने उन्हें रोक दिया और दसवें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतारा. 

वाल्टर रीड ने अपने कप्तान की रणनीति को सफल बनाने की कोशिश की और उन्होंने 117 रन बना दिए. इस दौरान वाल्टर रीड ने 155 गेंद खेली और 20 चौके भी लगाए. वाल्टर रीड ने अपने टेस्ट करियर का एकमात्र शतक केवल 2 घंटे में ही पूरा कर लिया. इस दौरान उन्होंने 9 विकेट के लिए. वाल्टर रीड ने विलियम स्कॉटन के साथ 9वें विकेट के 151 रन की साझेदारी की. 

Advertisement