Feb 12, 2024, 20:55 IST

क्रिकेट इतिहास की वो अनोखी घटना, जब टीम ने एक साथ खेले थे दो टेस्ट, एक जीता तो एक कराया ड्रॉ

kklkllk

इंग्लैंड को क्रिकेट का जनक कहा जाता है. पहला अंतरराष्ट्रीय मैच इंग्लैंड ने ही खेला था. आज से लगभग 91 साल पहले इंग्लैंड क्रिकेट टीम ने एक साथ 2 देशों में 2 टेस्ट मैच खेले थे. इसमें से एक मैच में उसने जीत हासिल की थी और एक मैच ड्रॉ रहा था. क्रिकेट इतिहास में केवल एक ही बार ऐसी घटना हुई, जब किसी टीम ने एक साथ दो टेस्ट में खेले.

बता दें कि इंग्लैंड ने 10 से 13 जनवरी 1930 के बीच क्राइस्टचर्च में न्यूजीलैंड के खिलाफ एक टेस्ट मैच खेला था, जिसमें पहली पारी में न्यूजीलैंड की टीम 112 रन बनाकर ढेर हो गई, जिसके जवाब में इंग्लैंड ने पहली पारी में 181 रन का स्कोर बनाया. दूसरी पारी में कीवी टीम 131 रन ही बना पाई. इंग्लैंड ने यह मुकाबला 8 विकेट से जीत लिया था.

एक ओर इंग्लैंड की टीम न्यूजीलैंड में टेस्ट खेल रही थी तो दूसरी ओर इंग्लैंड की दूसरी टीम 11 जनवरी 1930 से वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच खेलने उतरी. यह मुकाबला 5 दिन तक चला और इंग्लैंड की टीम इस मुकाबले को ड्रॉ कराने में कामयाब हुई थी. इस मैच में पहली पारी में वेस्टइंडीज ने 369 रन बनाए, जिसके जवाब में इंग्लैंड ने 467 रन बना लिए.

इस मैच में दूसरी पारी में वेस्टइंडीज की टीम ने 384 रन का स्कोर बनाया और इंग्लैंड को जीत के लिए चौथी पारी में 287 रन का लक्ष्य मिला था. 5 दिन का खेल खत्म होने तक इंग्लैंड की टीम ने 65 ओवर में 3 विकेट के नुकसान पर 167 रन बनाए और यह मैच ड्रॉ हो गया. इस तरह इंग्लैंड की टीम ने एक साथ दो देशों में मैच खेलकर एक नया रिकॉर्ड बनाया.

Advertisement